जकार्ता, 18वें एशियाई खेलों में भारत ने रोइंग में इतिहास रचते हुए गोल्ड मेडल अपने नाम किया। एशियन गेम्स इतिहास में रोइंग इवेंट में ये भारत का महज दूसरा गोल्ड मेडल है। स्वर्ण सिंह, भोनाकल दत्तू, ओम प्रकाश और सुखमीत सिंह की टीम ने रोइंग में मेंस की क्वाड्रपल स्कल्स टीम इवेंट का गोल्ड मेडल अपने नाम किया।

भारतीय टीम ने फाइनल में 6 मिनट और 17.13 सेकेंड का समय लेकर पहला स्थान हासिल किया। ये भारत के खाते में पांचवां गोल्ड मेडल है। पहले चार दिन लगातार गोल्ड मेडल जीतने के बाद भारत के खाते में पांचवें दिन कोई गोल्ड मेडल नहीं आया था। रोइंग में भारत के लिए आज का दिन काफी अच्छा रहा।

गोल्ड से पहले रोइंग इवेंट में भारत के खाते में दो ब्रॉन्ज मेडल भी आ चुके हैं। रोहित कुमार और भगवान सिंह की जोड़ी ने मेंस लाइटवेट डबल स्कल्स इवेंट के फाइनल में ब्रॉन्ज मेडल जीता। इससे पहले दुष्यंत ने लाइटवेट सिंगल स्कल्स इवेंट के फाइनल में ब्रॉन्ज मेडल जीता था।