जकार्ता:  भारत के मनजीत सिंह ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए यहां जारी 18वें एशियन गेम्स के 10वें दिन पुरुषों की 800 मीटर स्पर्धा में स्वर्ण पदक अपने नाम किया है. वहीं, भारत के ही जिनसन जॉनसन ने इस स्पर्धा में रजत पदक पर कब्जा जमाया है. यह भारत का दिन का पहला और कुल नौवां स्वर्ण पदक है. मनजीत ने 1 मिनट 46.15 सेकेंड का समय निकाला तो वहीं जॉनसन एक मिनट 46.35 सेकेंड का समय निकाला. 

1962 के बाद पहली बार हुआ है कि भारत ने एथलेटिक्स की इस स्पर्धा में स्वर्ण और रजत दोनों अपने नाम किए. कांस्य पदक कतर के अब्दुला अबु बकर के नाम रहा जिन्होंने एक मिनट 46.38 सेकेंड मनजीत अंतिम 200 मीटर तक पांचवें स्थान पर चल रहे थे लेकिन बाद में उन्होंने चतुराई से अपनी रफ्तार बढ़ाई और जिनसन तथा अबु को पछाड़ स्वर्ण अपने नाम किया.

यह भारत के लिए  इन खेलों में10वें दिन का पहला गोल्ड मेडल है.  अभी तक भारत को 9 गोल्ड मेडल, 18 सिल्वर और 22 ब्रॉन्ज मेडल मिल चुके हैं. इस तरह से भारत के कुल पदकों की संख्या 49 हो गई है. यह एथलेटिक्स में भारत का तीसरा गोल्ड है. अभी तक भारत को तेजंदरपाल सिंह ने शॉटपुट में, नीरज चोपड़ा ने जेवलीन थ्रो में गोल्ड मेडल दिलाया था.

दुती चंद ने 200 मीटर महिला रेस के फाइनल में बनाई जगह

धावक दुती चंद ने यहां जारी 18वें एशियाई खेलों के 10वें दिन मंगलवार को बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 200 मीटर स्पर्धा के फाइनल में जगह बना ली है. दुती ने सेमीफाइनल के हीट-1 में 23.00 सेकेंड का समय निकालते हुए पहला स्थान हासिल किया. दूसरे स्थान पर बहरीन की इडीडोंग ओडियोंग 23.01 सेकेंड का समय निकाल कर दूसरे स्थान पर रहीं. चीन की कोंग लिंगवेई ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिया. उन्होंने 23.32 सेंकेड का समय निकाला


हिमा गलत शुरुआत के कारण 200 मीटर सेमीफाइनल से बाहर

इससे पहले ​भारत की पदकों की उम्मीदों को तब बड़ा झटका लगा हाल ही में आईएएएफ अंडर-20 चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीत इतिहास रचने वाली हिमा दास महिलाओं की 200 मीटर रेस में फॉल्श स्टार्ट के कारण बाहर हो गई. रेस में हिस्सा लेने वाले खिलाड़यों को बंदूक की आवाज के बाद दौड़ना शुरू करना होता है लेकिन हिमा ने बंदूक चलने से पहले ही अपना स्थान छोड़ दिया और इस तरह वह बाहर हो गईं.