नई दिल्ली: भारत ने 18वें एशियन गेम्स के 10वें दिन यानी मंगलवार को 9 मेडल जीते. इनमें एक गोल्ड और छह सिल्वर मेडल शामिल हैं. इसके साथ ही उसने अपने मेडल की संख्या 50 पहुंचा दी है. वह अब मेडल टैली में आठवें नंबर पर पहुंच गया है. भारत सोमवार को खेल समाप्ति तक 8 गोल्ड समेत 41 मेडल के साथ नौवें नंबर पर था.

सबसे अधिक 11 मेडल एथलेटिक्स में जीते

भारत ने मौजूदा एशियन गेम्स में सबसे अधिक गोल्ड और मेडल एथलेटिक्स में जीते हैं. उसे एथलेटिक्स में 3 गोल्ड और 11 मेडल मिले हैं. दूसरा सबसे कामयाब खेल शूटिंग रहा है. भारत को इसमें दो गोल्ड समेत 9 मेडल मिले हैं. कुश्ती में दो गोल्ड समेत तीन मेडल मिले हैं. इसके अलावा एक-एक गोल्ड टेनिस और रोइंग में मिले हैं.

चीन 97 गोल्ड समेत 206 मेडल के साथ टॉप पर

एशियन गेम्स के 10वें दिन खेल की समाप्ति पर चीन 97 गोल्ड समेत 206 मेडल जीतकर पहले नंबर पर था. जापान 43 गोल्ड के साथ दूसरे और दक्षिण कोरिया 32 गोल्ड के साथ तीसरे नंबर पर चल रहा हैं. 

छठी बार पार करेगा 50 का आंकड़ा

भारत ने एशियन गेम्स में इससे पहले पांच बार 50 से अधिक मेडल जीते हैं. यह छठा मौका है, जब वह यह आंकड़ा पार करेगा. भारत ने सबसे पहले अपनी ही मेजबानी में 1951 में 51 मेडल जीते थे. इसके बाद उसने 1982 में 57 मेडल जीते. 1982 में भारत ही मेजबान था. वह 2006, 2010 और 2014 में भी 50 से अधिक मेडल जीत चुका है.

2010 में जीते सबसे अधिक 65 मेडल

भारत ने एशियन गेम्स में सबसे अधिक 65 मेडल 2010 में जीते थे. ये गेम्स चीन के ग्वांगझू में हुए थे. इंडोनेशिया में 50 का आंकड़ा पार करने के बाद भारतीय टीम का अगला टारगेट अपने मेडल की संख्या 65 या इससे अधिक पहुंचाना होगा. अगर ऐसा होता है तो इस बार सबसे अधिक मेडल जीतने का रिकॉर्ड बन जाएगा.

सबसे ज्यादा 15 गोल्ड 1951 में जीते

भारत ने एशियन गेम्स में सबसे ज्यादा 15 गोल्ड खुद की मेजबानी में 1951 में जीते थे. इसके बाद से वह इस आंकड़े को नहीं छू पाया है. वह इसके सबसे करीब 2010 में पहुंचा, जब उसने 14 गोल्ड मेडल जीते थे.