जकार्ता : जोशना चिनप्पा ने आठ बार की विश्व चैम्पियन निकोल डेविड को हराया, जिससे भारतीय महिला स्क्वाश टीम ने गत चैम्पियन मलेशिया को 2.0 से हराकर लगातार दूसरी बार एशियाई खेलों के फाइनल में प्रवेश कर लिया. इस प्रवेश के साथ भारतीय महिलाओं ने अपने लिए एक पदक पक्का कर लिया है. जोशना चिनप्पा, दीपिका पल्लीकल कार्तिक, सुनयना कुरूविला और तन्वी खन्ना की भारतीय टीम ने इसके साथ ही स्वर्ण पदक की ओर कदम रख दिया. फाइनल में उनका सामना हॉन्गकॉन्ग से हो सकता है.


दुनिया की 16वें नंबर की खिलाड़ी चिनप्पा को हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ आखिरी पूल मैच में कल एनी यू ने हराया था. भारत 1.2 से हारकर हॉन्गकॉन्ग के बाद दूसरे स्थान पर रहा और उसे मलेशिया के रूप में कठिन प्रतिद्वंद्वी मिला. 


हार के बाद अपने आंसुओं पर काबू नहीं रख सकी चिनप्पा ने अगले ही दिन उस गम से उबरते हुए डेविड को हराया जो पांच बार एशियाड में स्वर्ण पदक जीत चुकी है. दर्शकों का समर्थन भी डेविड को हासिल था लेकिन इससे चिनप्पा विचलित नहीं हुई. उसने 12.10, 11.9, 6.11, 10.12, 11.9 से हराया. 

दुनिया की 19वें नंबर की खिलाड़ी दीपिका भी कल जोए चान के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकी थी, लेकिन आज उसने दुनिया की पूर्व पांचवें नंबर की खिलाड़ी लो वी वर्न को हराया.


उसने 11.2, 11.9, 11.7 से जीत दर्ज की. भारत का सामना अब हॉन्गकॉन्ग से हो सकता है. दीपिका ने कहा, ''हांगकांग काफी कठिन टीम है लेकिन इस जीत से हमारा आत्मविश्वास काफी बढ़ा है.''