नई दिल्ली । ऑनलाइन खरीदारी करते वक्त उपभोक्ता सबसे ज्यादा डेबिट कार्ड का उपयोग करता है। भुगतान टेक्नॉलजी और ट्रांजैक्शन प्रोसेसिंग कंपनी फाइनैंशल सॉफ्टवेयर एंड सिस्टम्स (एफएसएस) की एक रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। एफएसस पेमेंट्स ट्रेंड रिपोर्ट 2018 के मुताबिक, पिछले साल एफएसएस गेटवे पर 589 मिलियन डेबिट कार्ड और 201.4 मिलियन क्रेडिट कार्ड ट्रांजैक्शन हुए। वैल्यू की बात करें तो क्रेडिट कार्ड्स ट्रांजैक्शन की वैल्यू 10 बिलियन डॉलर जबकि डेबिट कार्ड से किए गए ट्रांजैक्शन की वैल्यू 8 बिलियन डॉलर रही। एफएसस के प्रेजिडेंट ऑफ सॉफ्टवेयर प्रॉडक्ट्स बिजनेस, सुरेश राजगोपालन ने कहा, 'ट्रेंड रिपोर्ट के लिए, हमने हमारे प्लैटफॉर्म पर प्रोसेस किए गए उन मर्चेंट पेमेंट्स को कैलकुलेट किया है जिनका भुगतान डिजिटली किया गया। इसमें पीयर-टू-पीयर पेमेंट्स शामिल नहीं हैं। ओवरऑल ट्रांजैक्शंस भी तेजी से बढ़ रही हैं, जो एक बढ़िया संकेत है। इसमें डेबिट कार्ड के जरिए बढ़ रहे ट्रांजैक्शंस का मजबूत योगदान है।' मर्चेंट पेमेंट के लिए कार्ड्स का इस्तेमाल सबसे ज्यादा हो रहा है। राजगोपालन ने कहा कि कंपनी ने पिछले साल खासतौर पर पर्सन-टू-पर्सन पेमेंट्स के तौर पर यूनिफाइड पेमेंट्स इटरफेस के जरिए 900 मिलियन से ज्यादा ट्रांजैक्शन प्रोसेस किए। दूसरे पर्सन-टू-पर्सन पेमेंट मोड की बात करें तो मोबाइल बैंकिंग और इमीडिएट पेमेंट सर्विस (आईएमपीएस) ट्रांजैक्शंस की संख्या करीब 700 मिलियन हो सकती है।
एफएसएस ने 19 बड़े बैंकों के साथ मिलकर यह अध्ययन किया। इसका दावा है कि मर्चेंट्स के लिए हुए कुल ऑनलाइन पेमेंट्स में 58 प्रतिशत कंपनी ने प्रोसेस किए। रिपोर्ट के मुताबिक, कार्ड स्वाइप के जरिए ट्रांजैक्शंस में 47.5 प्रतिशत हिस्सा वीजा, 35 प्रतिशत हिस्सा मास्टरकार्ड, 16 प्रतिशत से कम हिस्सा रूपे का रहा। वैल्यू की बात करें तो वीजा का हिस्सा पिछले साल 47.1 प्रतिशत रहा था। रिपोर्ट के मुताबिक, क्रेडिट कार्ड से किए गए 54.4 डॉलर ट्रांजैक्शन से तुलना करें तो डेबिट कार्ड के जरिए औसत 13.4 डॉलर का ट्रांजैक्शन हुआ। राजगोपलन का कहना है, 'पिछले साल की तुलना में डेबिट कार्ड के औसत टिकट साइज़ में गिरावट हुई है, इससे पता चलता है कि लोग फूड डिलीवरी जैसे छोटी ऑनलाइन शॉपिंग के लिए भी डिजिटल पेमेंट्स का इस्तेमाल कर रहे हैं।' डिजिटल ट्रांजैक्शन में सबसे ज्यादा शेयर 291 मिलियन के साथ मोबाइल वॉलिट्स का रहा। इसके बाद 140 मिलियन के साथ ट्रैवल ऐंड होटल सेगमेंट का नंबर है। एफएसस का दावा है कि अक्टूबर में 1.85 बिलियन डॉलर के ट्रांजैक्शन प्रोसेस हुए।