मुंबई ।ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट अपने खोज टूल को बेहतर बनाकर और उत्पादों के ज्यादा सटीक सुझाव देकर अगले 10 करोड़ ग्राहक बनाने की योजना बना रही है। फ्लिपकार्ट के लिए तकनीक नई चीज नहीं है। इसके पास मांग और आपूर्ति के प्रबंधन के लिए सोर्टिंग रोबोट और ऑटोमेटेड सिस्टम बहुतायत में हैं। इसके अलावा उसके पास आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (आई) आधारित आधुनिक रिकमंडेशन इंजन हैं। लेकिन भारत में बनी यह दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी जानती है कि अगर उसे अगले 10 करोड़ ग्राहक जोडऩे हैं तो उसे तकनीक की तह में और अंदर जाना होगा। इन  10 करोड़ ग्राहकों में से ज्यादातर छोटे शहरों से आएंगे। वॉलमार्ट के स्वामित्व वाली यह कंपनी अपने प्लेटफॉर्म पर उन्हें खरीदारी का कैसा अनुभव मुहैया कराने में सफल रहती है। फ्लिपकार्ट में इन टेक सिस्टम की डिजाइन बनाने की जो दो मुख्य व्यक्ति अगुआई कर रहे हैं, उनमें प्रिंसिपल आर्किटेक्ट और सीईओ कल्याण कृष्णमूर्ति के तकनीक सलाहकार उत्कर्ष बी और मुख्य डेटा वैज्ञानिक मयूर दातार शामिल हैं। उत्कर्ष फ्लिपकार्ट में एक नई टीम की भी अगुआई कर रहे हैं, जिसका नाम अप्लायड साइंस ऐंड टेक्नोलॉजी (एएसटी) समूह है। कहा जा रहा है कि यह टीम उन नवोन्मेषों और मॉडलों पर काम कर रही है, जिनकी बदौलत फ्लिपकार्ट टीयर-तीन शहरों में वृद्धि कर पाएगी।