नई दिल्ली : जब भी एक महिला और पुरुष के बीच शारीरिक संबंधों की बात आती है तो ऐसा माना जाता है कि शुरुआत हमेशा पुरुष ही करता है. ऐसा कहा जाता है कि महिलाओं के मुकाबले पुरुषों में संबंध बनाने की एक्साइटमेंट ज्यादा होती है. अगर आप भी ऐसा ही सोचते हैं तो आप गलत हैं, क्योंकि महिला के मुकाबले पुरुष में सेक्स के लिए पहल करने की प्रवृत्ति तीन गुनी अधिक होती है. यह बात हालिया शोध में कही गई है.

संभोग में कई फैक्टर्स रखने हैं मायने
यह शोध लंबे समय के लिए पुरुष-महिला यौन संबंध पर आधारित है. शोध के अनुसार, दीर्घकालीन अवधि में लगातार संभोग करने के मामले में कारकों की अहम भूमिका होती है. जरनल इवोलुसनरी बिहेवियरल साइंसेस में प्रकाशित इस शोध के अनुसार, संभोग में कई फैक्टर महत्व रखते हैं. जैसे लोग अपने रिश्ते में कितने खुश हैं. वह अपने साथी के साथ कितना जुड़ाव महसूस करते हैं और वह एक दूसरे से कितना प्यार और कितना विश्वास जताते हैं. 

रिश्तों में यह है सबसे महत्वपूर्ण फैक्टर
नार्वे की यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (एनटीएनयू) से ट्रोंड विगो ग्रोंटवे का कहना है कि रिश्ते में जोश व जज्बा होना काफी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करता है. उन्होंने कहा कि जज्बा ही सभी फैक्टर में सबसे अहम भूमिका निभाता है. इस स्टडी में 19 से 30 उम्र के ऐसे 92 जोड़े शामिल किए गए थे, जोकि एक महीने से लेकर नौ वर्षो तक एक साथ थे. इन जोड़ों ने एक सप्ताह में औसत दो से तीन बार संभोग किया. जितनी लंबा रिश्ता रहा, इन जोड़ों ने उतना ही कम संभोग किया.

एनटीएनयू के एसोसिएट प्रोफेसर मोंस बेनडिक्सन ने कहा कि स्टडी में साबित हुआ कि दूसरों के प्रति इच्छा जज्बे को कम करती है. उन्होंने कहा कि अपने साथी के अपेक्षाकृत दूसरों के साथ संभोग की अधिक इच्छा भी रिश्ते में जज्बे को कम करती है.