बिलासपुर । छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी ने विद्युत उपकेन्द्रों तथा कार्यालय भवनों में बढ़ते तापमान के कारण अग्नि दुर्घटनाओं से होने वाले नुकसान को ध्यान में रखते हुये कार्यपालक निदेशक बिलासपुर क्षेत्र ने अधीनस्थ कार्यालयों को दुर्घटना से बचाव एवं सावधानी बरतने संबंधी निर्देश जारी किये है, ताकि समय रहते दुर्घटनाओं को रोका जा सके। कार्यालय कार्यपालक निदेशक बिलासपुर क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले समस्त वृत्त एवं संभागों को सुरक्षा संबंधी निर्देश जारी किये गये है, जिसके अनुसार समस्त विद्युत उपकेन्द्रों के पॉवर ट्रांसफार्मर के टेंम्पे्रचर मीटर पर विशेष निगरानी रखने, सर्विâट ब्रेकर से निकलने वाले केबल का समुचित रख-रखाव, पॉवर व वितरण ट्रांसफार्मरों के आसपास अनावश्यक रूप से एकत्रित घासफूस, एवं झाडिय़ों के नियमित साफ-सफाई करने, ट्रांसफार्मर केबल की क्षमता तथा लोड बढ़ाने जैसे उपाय करने से संभावित विद्युत हादसो को टाला जा सकता है। इसके अलावा सभी उपकेन्द्र तथा कार्यालयों को अग्निशामक यंत्र सदैव तैयार रखने को  कहा गया है, जिससे निरंतर विद्युत आपूर्ति की जा सके। विभागीय अधिकारियों को निर्देश है कि वे उपभोक्ताओं को भी संभावित विद्युत अग्नि दुर्घटना से बचाव के संबंध में जानकारी देवें कि हमेशा विद्युत लोड के अनुसार आंतरिक वायरिंग करावें, घरेलू उपकरणों को प्रशिक्षित इलेक्ट्रीशियन से ही सुधार कार्य कराये तथा किसी भी प्रकार की विद्युत दुर्घटना होने पर इसकी सूचना विद्युत विभाग को दे। विद्युत उपकरणों में संभावित आगजनी को रोकने के लिए दिए गए निर्देशों का कड़ाई से पालन करने को कहा गया है ताकि उपभोक्ताओं को निरंतर विद्युत आपूर्ति प्रदाय की जा सके।