जबलपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शपथ के अगले ही दिन केबिनेट के माध्यम से ऐसे ऐतिहासिक निर्णय लिए जिसका सीधा लाभ देश के अन्नदाताओं को मिलेगा। मोदी मंत्रिमंडल की पहली बैठक में ही इस योजना का दायरा बढ़ाते हुए प्रत्येक किसान को इस योजना से लाभान्वित करने का निर्णय लिया गया है। इस निर्णय से देश के लगभग 14.05 करोड़ किसानों को हर साल 6 हजार रूपए मिलेंगे। यह बात पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद राकेश सिंह एवं केन्द्रीय पर्यटन मंत्री प्रहलाद पटेल ने जबलपुर में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए कही।
उन्होंने कहा कि देश की जनता ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दोबारा आशीर्वाद देकर इतिहास बनाया है। प्रदेश में 29 में से 28 सीटें जनता के आशीर्वाद से प्राप्त हुई है। इसके लिए पार्टी जनता का हृदय से आभार व्यक्त करती है। पूरे देश के साथ मप्र में भी हर संसदीय क्षेत्र में भाजपा ने जीत के नए कीर्तिमान बनाये है। जबलपुर की जनता ने इस बात पुराना कीर्तिमान तोड़ते हुए इतिहास बनाया है। इसके लिए मैं जबलपुर की जनता का आभारी हूँ।
- किसान को पेंशन सुविधा देकर वादा पूरा किया
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत 6 हजार रूपए सालाना दिए जाने और 60 साल की उम्र के बाद हर किसान को पेंशन सुविधा देने का जो वादा किया था, उसे प्राथमिकता के साथ पूरा किया है। सरकार गठन के बाद कैबिनेट की पहली बैठक में ही दोनों निर्णयों को मंजूरी दी गई। उन्होंने कहा कि कैबिनेट के इन फैसलों से देश के हर अन्नदाता को लाभ मिलेगा। 
- कैबिनेट में स्थान देने के लिए प्रधानमंत्री जी का आभार
श्री सिंह ने मध्यप्रदेश से चार वरिष्ठ सांसदों को अपनी केबिनेट में स्थान दिए जाने पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को आभार मानते हुए कहा कि इससे निश्चित ही मप्र के साथ महाकौशल के विकास को गति मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रहलाद पटेल को पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री बनाये जाने से निश्चित रूप से मप्र के साथ जबलपुर को इसका लाभ मिलेगा।
- हर मोर्चे पर विफल मप्र सरकार
श्री सिंह ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार जो किसानो, युवाओ से झूठे वादे कर सत्ता में आयी थी, उसने अभी तक कर्जमाफी, बिजली बिल आधा करना और बेरोजगारों को भत्ता देने जैसे वादे पूरे नही किए है। कांग्रेस सरकार झूठे वादों पर बनी सरकार है। कांग्रेस सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है। चुनाव खत्म होने के साथ ही प्रदेश में तबादला उद्योग शुरू हो गया है। कांग्रेस अपने आर्थिक हितों के लिए तबादला उद्योग जमकर चला रही है। श्री सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश में अधिकारी यदि कांग्रेस के हित में काम नहीं कर रहे हैं तो उनका तबादला कर दिया जा रहा है। कांग्रेस जनता के हितों में नहीं बल्कि पार्टी के हित में काम करने वाले अधिकारियों को तवज्जो दे रही है।
- प्रदेश में पर्यटन के क्षेत्र में अपार संभावनाएं
 केंद्रीय पर्यटन एवँ संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए केंद्र में मिली जिम्मेदारी के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह एवँ प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह का आभार व्यक्त किया। श्री पटेल ने कहा कि मोदी सरकार की प्राथमिकता रही है कि किसी भी कार्य का लक्ष्य तय किया जाए और उसे तय समय या उसके अंदर पूरा कर लिया जाए। पर्यटन एवं संस्कृति मंत्रालय का भी प्रयास होगा कि हम लक्ष्य तय करेंगे और उसे समय सीमा के अंदर पूरा करेंगे।
श्री पटेल ने कहा कि मध्यप्रदेश एवं महाकोशल में पर्यटन की दृष्टि से असमिति संभावनाएं है। प्रदेश के पर्यटन को भारत में नई पहचान मिले, इस दिशा में कार्य किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पूर्व में राकेश सिंह ने डुमना नेचर पार्क को टाइगर सफारी बनाने के लिए प्रयास किया था लेकिन योजना पूरी नही हो पाई इसे प्रारम्भ कराने का प्रयास किया जाएगा साथ ही जबलपुर में होने वाले नर्मदा महोत्सव को और भव्य बनाने की दिशा में विचार किया जाएगा। श्री पटेल ने कहा कि दमोह ऐतिहासिक धरोहरों और संस्कृति का शहर है, उसे भी पर्यटन के क्षेत्र में आगे ले जाना है। श्री पटेल ने कहा अभी अभी जिम्मेदारी संभाली है किसी भी प्रकार की घोषणा करना जल्दबाजी होगी लेकिन महाकोशल और जबलपुर के लिए जो भी बेहतर प्रयास हो सकते हैं किये जायेंगे।