मुम्बई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) पाकिस्तान के साथ महिला एकदिवसीय क्रिकेट सीरीज शुरु करना चाहता है। इसके लिए बीसीसीआई सरकार की मंजूरी का इंतजार कर रहा है। यह सीरीज आईसीसी की महिला चैंपियनशिप का हिस्सा है। इसी सीरीज के जरिए महिला विश्व कप 2021 के लिए दोनों टीमों का क्वॉलिफिकेशन भी तय होगा हालांकि दोनो देशों के बीच तनाव को देखते हुए इसकी अनुमति मिलना आसान नहीं है। इस मामले में बीसीसीआई के महाप्रबंधक (क्रिकेट ऑपरेशंस) सबा करीम ने खेल मंत्रालय को एक पत्र भी लिखा है। इस पत्र में बोर्ड ने सरकार से कहा है कि महिला चैंपियनशिप का आयोजन आईसीसी करता है, जिसके तहत सभी टीमों को एक-दूसरे के घर में सीरीज खेलना जरूरी है। इसके आधार पर मौजूद अंक प्रणाली से ही दोनो टीमों की रैंकिंग तय होती है और उन्हें विश्व कप में क्वॉलिफाइ करने का अवसर मिलता है।आईसीसी के शेड्यूल के मुताबिक भारत को पाकिस्तान महिला टीम के साथ जुलाई से नवंबर के बीच कम से कम 3 एकदिवसीय मैचों की सीरीज का भारत में आयोजन करना है।' बीसीसीआई चाहता है कि वह आईसीसी को इस संबंध में अपनी मंजूरी देने से पहले इस कार्यक्रम के लिए वह भारत सरकार से मंजूरी हासिल कर ले।
खेल मंत्रालय के साथ ही इस मामले में पहले विदेश मंत्रालय से मंजूरी की जरूरत होगी। बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा, 'हमें इस मामले पर सरकार के निर्णय का इंतजार है। अगर सरकार महिला टीम के साथ सीरीज की अनुमति नहीं देती है तो फिर में अन्य विकल्पों पर विचार करना होगा।' 2021 में न्यूजीलैंड में आयोजित होने जा रहे महिला विश्व कप के लिए ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, भारत, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका, श्री लंका और वेस्ट इंडीज को अगले ढाई साल में आईसीसी के बैनर तले एक-दूसरे के खिलाफ खेलना है।