ग्वालियर  ।पुलिस अधीक्षक ग्वालियर   नवनीत भसीन द्वारा  ग्वालियर जिले केबैंक संचालकों की बैंक सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए उनके संचालकों की बैठक ली। बैठक मे अति० पुलिस अधीक्षक, अपराध एवं शहर-मध्य श्री पंकज पाण्डेय के साथ ग्वालियर जिलें के १००से अधिक बैंक संचालक भी सम्मिलित हुए।
बैठक मे पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ने उपस्थित सभी बैंक संचालको से सायबर ठगी के संबंध मे चर्चा की उन्होने बैंक के अधिकारियों से पूछा कि यदि किसी व्यक्ति के साथ एटीएम क्लोनिंग जैसी घटना घटित हो और फरियादी के खाते से रूपये निकल जाये तो उसके रूपयों की वापसी के लिये कौन जिम्मेदार होगा। इस पर बैंक अधिकारियों द्वारा बताया गया कि यदि किसी व्यक्ति के साथ इस प्रकार की घटना होती है तो खाताधारक का बैंक उसे ठगे गये रूपयों का भुगतान करेगा। पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ने बैंक संचालको से बैंक मे आने-जाने वाले व्यक्तियों पर नजर रखने व किसी भी व्यक्ति का आचरण संदिग्ध लगने पर उसकी सूचना तत्काल पुलिस को देने के लिये कहा।पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ने सभी बैंक संचालको को बताया कि पुलिस द्वारा जिलें मे संचालित डायल-१०० वाहन आपकी सुरक्षा के लिये ही तैनात है किसी भी संदिग्ध परिस्थिति मे आप सीधे डायल-१०० को कॉल कर मदद प्राप्त कर सकते है। बैठक के अंत मे पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ने समस्त सभी संचालको को महिला सुरक्षा हेतु बनाये गये एप ‘‘एमपी ई कॉप’’व ‘‘पुलिस हेल्पलाइन नंबर ७०४९११०१००’’के बैनर अपने-अपने बैंक की शाखाओं पर लगाये व वहाँं आने वाली महिलाओं को इसके प्रति जागरूक भी करे। पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ने सभी बैंक संचालको को पुलिस नियंत्रण कक्ष मे स्थित सीसीटीव्ही रूम का दौरा कराया और उनको बताया कि किस प्रकार पुलिस शहर भर मे सीसीटीव्ही के जरिये नजर रखें हुए है।