भोपाल । पसिफ़िक ब्लू सोसाइटी भोपाल में बहुत दिनों से लाइब्रेरी की आवश्यकता महसूस हो रही थी। सोसाइटी के पदाधिकारियो के सहयोग से एवं डॉक्टर अरविन्द जैन के निर्देशन में लाइब्रेरी का शुभारम्भ एम.के. चौरे अध्यक्ष की उपस्थिति में प्रसिद्ध योगाचार्य एवं समाज सेवी समर आर एल लता के मुख्य आतिथ्य में, विशेष अतिथि प्रसिद्ध बाल साहित्यकार सुश्री अनुपमा अनुश्री की उपस्थिति में लाइब्रेरी का शुभारम्भ हुआ। जिसमे श्रीमती लता ने बताया की पुस्तकों के द्वारा जीवन को नयी दिशा मिलती हैं और मैं तो पुस्तक की कीड़ा मानी जाती हु। अनुश्री ने पुस्तकें के महत्व के बारे में बताया की आज के बच्चो को पुस्तकों के द्वारा ज्ञान देकर लगाव पैदा करना होगा अन्यथा भविष्य संकट मय होगा। डॉक्टर अरविन्द जैन ने पुस्तकों की सार्थकता पर महत्व दिया और पुस्तके ज्ञान का प्रकाश स्तम्भ हैं जो कभी अज्ञानता नहीं देती। पुस्तकों को पढ़ने शुरुआत किसी भी पुस्तक के एक लाइन से शुरू करो, फिर एक पैराग्राफ पढ़ो उससे पुस्तक पढ़ने की अभिरुचि बढ़ती हैं, अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में श्री चौरे ने कहा की पुस्तक मात्र आलमारी में राखी होने से उपयोगी नहीं होती जब तक की उसको पढ़ा न जाए। जिस प्रकार थाली में रखा भोजन हमारा नहीं होता जब तक की हम उसे ग्रहण नहीं करते और उसका पाचन नहीं हो, इसके अलावा कमलेश माहेश्वरी एवं नितिन जैन ने लिब्ररे के शुभारम्भ पर अपनी शुभकामनाये दी। इसके साथ ही जिन्होंने लाइब्रेरी के लिए पुस्तकें भेट की उनका सम्मान किया गया। इस लाइब्रेरी की शुरुआत से निवासियों को बहुत लाभ मिलेगा और महिलाओं किभागीदारी महत्वपूर्ण रही। इस प्रकार का प्रयास हर सोसाइटी/कॉलोनी में भी होना चाहिए।