फ्रांस में जारी महिला फ़ुटबॉल विश्व कप में 27 साल की खिलाड़ी चिली की गोलकीपर क्रिश्चियन एंडलर अपने खेल से ख़ूब प्रशंसाएं बटोर रही हैं। वह अमरीका के ख़िलाफ़ अपनी टीम को 3-0 से मिली हार तो नहीं टाल सकीं लेकिन अपने प्रदर्शन से उन्होंने ख़ास छाप छोड़ी। कमेंटेटर जोनाथन पीयर्स के अनुसार इस मैच में एंडलर ने महिला विश्व कप इतिहास के संभवत: सर्वश्रेष्ठ गोल बचाए। सभी उनके खेल की तारीफ़ करे हैं। अमरीकी टीम के तकनीकी निदेशक ने कहा, "क्रिश्चियन एंडलर ने बेहतरीन खेल खेला।  हमें उनकी क्षमता पता है। वो विश्व स्तर की गोलकीपर हैं।"
एंडलर फ्रेंच पेरिस सेंट जर्मेन के लिए खेलती हैं।  वो सैंटियागो में पैदा हुई थीं और उन्होंने 16 साल की उम्र से चिली की राष्ट्रीय टीमों के लिए खेलना शुरू कर दिया था। उसने पेरिस से पहले अमरीका, इंग्लैंड और स्पेन में हुए टूर्नामेंट्स में खेला है। दिग्गज अमरीकी खिलाड़ी एलेक्सी लालस ने कहा, ''एंडलर विश्व की बेस्ट गोलकीपर हैं।''अमरीका पिछले तीन फ़ीफ़ा वर्ल्ड कप अपने नाम कर चुका है अमरीका की महिला फ़ुटबॉल टीम विश्व की बेहतरीन टीमों में से एक है। एंडलर को 'प्लेयर ऑफ़ द गेम' का ख़िताब दिया गया। एक गोलकीपर के साथ ये अक्सर नहीं होता है कि उसी खेल में उनकी टीम तीन गोल से हार जाए और मुक़ाबले से बाहर हो जाए। वहीं एंडलर ने इस बारे में कहा, ''खेल के परिणाम के बावजूद ये ख़िताब हासिल करना एक बड़ी उपलब्धि है।''उन्होंने कहा, ''महिला फ़ुटबॉल के विकास और सहयोग में कई बड़ी टीमों को हमारे मुकाबले कई साल का लाभ है. हमारी टीम अभी नई है, शौकिया तौर पर खेलती है। हमारी कई खिलाड़ियों को पेशेवर फुटबॉल खेलने के लिए देश छोड़कर जाना पड़ता है।''