शासकीय मुद्रणालय में नई कलर्ड प्रिंटिंग मशीनें स्थापित की जायेंगी एवं शासकीय मुद्रणालय को राष्ट्रीय स्तर की प्रिंटिंग प्रेस के रूप में स्थापित किया जाएगा, राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत ने शासकीय मुद्रणालय के औचक निरीक्षण के दौरान यह बात कही।

श्री राजपूत ने कहा कि गर्वमेन्ट प्रेस को प्रिंटिंग क्वलिटी के कारण आउट र्सोसेज पर निर्भर न रहना पड़े। इसके लिए गर्वेमेंट प्रेस को अत्याधुनिक मशीनों से युक्त किया जाएगा। गर्वमेंन्ट प्रेस शासन का एक महत्वपूर्ण विभाग है जहाँ शासन के सभी गोपनीय एवं महत्वपूर्ण दस्तावेजों की प्रिंटिंग का कार्य किया जाता है। गोपनीयता को देखते हुए हमारा प्रयास होना चाहिए कि सभी कार्य गर्वेमेन्ट प्रेस के अंदर ही हों।

उन्होंने कहा कि शासकीय कार्य में कर्मचारियों की लापरवाही एवं कामचोरी को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कर्मचारियों की अनुपस्थिति पर उन्होंने अपनी नाराजगी व्यकत की। उन्होंने कहा कि भोपाल, रीवा एवं इंदौर के संभागीय कार्यालय अपनी उपयोगिता साबित करें, इन कार्यालयों के उन्नयन की दिशा में शीघ्र कदम उठाए जायेंगे।

श्री राजपूत ने प्रिटिंग शाखा, प्रशासनिक कक्ष एवं बंधन कक्ष का निरीक्षण किया। बंद पड़ी मशीनों को देखकर उन्होंने नाराजगी व्यक्त करते हुए उन्हें तुरंत चालू करने के निर्देश दिए। इस दौरान नियंत्रक श्री ज्ञानेश्वर पाटिल, संयुक्त नियंत्रक सुश्री कुसुम छारी, उप नियंत्रक श्री वी.के. सिंह उपस्थित थे।