बिलासपुर । गुरुघासी दास विवि से एमबीए में गोलमेडलिस्ट प्रीति चड्डा की सन्दिग्ध मौत आबूधाबी में उनके निवास स्थान में २३ जून रविवार को हो गयी। वह दुबई की मल्टीनेशनल फर्म में एचआर विभाग में प्रमुख पद पर कार्यरत्त थी। तीन साल पहले प्रीति का विवाह पायलट सिन्धु घोष से हुआ था। पर बीते एक साल से उसका दाम्पत्य जीवन पति से रह-रह कर विवाद में चल रहा था, जिसकी जानकारी उसने, बिलासपुर पहुंच कर अपने पिता प्राण चड्ढा और परिजनों को दी थी, उसके शरीर पर चोटों के निशान थे। पर वह दुबई जाकर फिर से जॉब करने लगी।लेकिन पति सिंधु घोष ने फिर बात शुरू की और सम्बन्ध सुधारने लगे,लेकिन प्रीति आबूधाबी के कमान को छोड़ कर दुबई के होटल में मासिक भाड़े पर रहने लगी।ईद पर इस बार दुबई में मिली छूट्टीयों पर वह बिलासपुर आई और अपने घर में पति से चल रहे तनाव के बारे में बताया, उसके कहा था शराब पीने के बाद वह आपा खो देता है और उस दूर रहना उचित है। लेकिन रविवार को वह होटल से कपड़े लेने अबुधाबी गयी और फिर उसकी सन्दिग्ध मौत हो गयी।मौत की सूचना सिंधु ने बिलासपुर फोन कर के प्रीति के रिश्तेदारों को दी है।  प्रीति की डेड बॉडी अभी पोस्टमार्टम बाद अभी  इंडिया नहीं पहुंची है।इस बीच वकील ने प्रीति के परिजनों को जानकारी दी है कि सीआरपीसी १८८ के तहत उनको अधिकार है कि इस प्रकरण के रिपोर्ट बिलासपुर पुलिस में दर्ज कराएं।इस दर्ज रिपोर्ट पर केंद्र सरकार से अनुमति पर आरोपी के खिलाफ जुर्म दर्ज कर आगे कररवाई की जा सकती है।प्रीति का पार्थिव शरीर को बिलासपुवर लाने और यहां प्रकरण दर्ज करने की दिशा में कार्य शुरू है।