भिलाई । मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी देवी बघेल आज पंचतत्व  में विलीन हो गई। भिलाई-3 के उमदा रोड स्थित मुक्तिधाम में उनका अंतिम संस्कार किया गया। मुखाग्नि उनके बड़े पुत्र मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दी। इस दौरान मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, प्रदेश के सारे मंत्रीगण, सांसद, विधायक, पूर्व मुख्यमंत्री पुलिस व प्रशासन के आला अधिकारी सहित जनसैलाब उमड़ पड़ा।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की माता श्रीमती बिंदेश्वरी देवी बघेल का रविवार की शाम को राजधानी के रामकृष्ण केयर हास्पिटल में निधन हो गया था। अपने जीवन का 78 बसंत पार कर चुकी श्रीमती बघेल को बीते 24 जून को ह्रदयाघात के चलते हास्पिटल में भर्ती कराया गया था। आज उनकी अंतिम यात्रा मानसरोवर कालोनी भिलाई-3 स्थित मुख्यमंत्री निवास से दोपहर 12 बजकर 25 मिनट में निकली। श्रीमती बघेल के पार्थिव शरीर को फूलों से सजी स्वर्ग रथ वाहन में रख अंतिम यात्रा निकाली गई। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल स्वर्ग रथ वाहन के पीछे पैदल चलते हुए उमदा रोड मुक्तिधाम पहुंचे। उनके साथ बघेल परिवार और करीबी कांग्रेस नेताओं का हुजूम भी पैदल चलते हुए मुक्तिधाम पहुंचा।
अंतिम यात्रा से पहले श्रीमती बिंदेश्वरी देवी बघेल के पार्थिव काया को आमजनों के दर्शनार्थ मानसरोवर कालोनी मुख्यमंत्री निवास में रखा गया था। यहां पर विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत, प्रदेश के मंत्रीगण टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू, गुरु रुद्रकुमार, कवासी लकमा, रविन्द्र चौबे, मो. अकबर, उमेश पटेल, जयसिंह अग्रवाल, डॉ शिवकुमार डहरिया, प्रेमसाय सिंह, अमरजीत भगत, अनिला भेडिय़ा, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह, प्रदेश के मुख्य सचवि सुनील कुजुर, पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी, सांसद दुर्ग विजय बघेल, पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, भिलाई नगर विधायक देवेन्द्र यादव, दुर्ग शहर विधायक अरुण वोरा, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम, प्रदेश कांग्रेस महामंत्री गिरीश देवांगन, प्रदेश विधानसभा नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक,वैशाली नगर विधायक विद्यारतन भसीन सहित कांग्रेस भाजपा के अनेक जनप्रतिनिधियों ने श्रीमती बघेल के पार्थिव काया में पुष्पचक्र अर्पित कर अपनी श्रद्धांजलि दी। सभी दिग्गज नेताओं ने उमदा रोड मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार में भी उपस्थिति प्रदान किया। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ अंतिम संस्कार के दौरान सीधे मुक्तिधाम पहुंचकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और उनके परिजनों से मुलाकात कर संवेदना जताई।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उनके पिता नंदकुमार बघेल, मुख्यमंत्री के छोटे भाई हितेश बघेल, पुत्र चैतन्य बघेल से मिलकर जनप्रतिनिधियों और उपस्थित लोगों ने अपनी शोक संवेदना जताई। उमदा रोड मुक्तिधाम में अंतिम संस्कार के पश्चात एक शोकसभा का आयोजन कर दिवंगत श्रीमती बिंदेश्वरी देवी बघेल के आत्मा की शांति तथा शोकाकुल बघेल परिवार के संबलता की कामना की।