मुंबई, टाटा समूह देश के 100 सबसे मूल्यवान ब्रांड्स की सूची में 2019 में लगातार दूसरे साल शीर्ष पर रहा है। टाटा ब्रांड मूल्य में 37 प्रतिशत का इजाफा हुआ है और यह 19.6 अरब डॉलर पर पहुंच गया। इस सूची में एलआईसी दूसरे और इन्फोसिस तीसरे स्थान पर रहा है। इंग्लैंड स्थित ब्रांड फाइनेंस की मंगलवार को जारी सूची में अनिल धीरूभाई अंबानी समूह का भी जिक्र है। समीक्षाधीन वर्ष के दौरान समूह का ब्रांड मूल्य 65 प्रतिशत घटकर 55.9 करोड़ डॉलर के निचले स्तर पर आ गया। इस सूची में अनिल अंबानी समूह 28 स्थान फिसलकर 56वें पायदान पर चला गया। टाटा समूह का ब्रांड मूल्य 2018 में 14.23 अरब डॉलर था। इस रिपोर्ट में कहा गया है कि टाटा समूह न केवल देश का सबसे मूल्यवान ब्रांड है, बल्कि शीर्ष 25 ब्रांडों में इसने सबसे तेज वृद्धि भी दर्ज की है। समीक्षाधीन अवधि में समूह का ब्रांड मूल्य 37 प्रतिशत बढ़ा है। इसमें कहा गया है कि समूह ने वाहन, आईटी सेवा, इस्पात और रसायन क्षेत्र में लगातार वृद्धि दर्ज की है। सार्वजनिक क्षेत्र की बीमा कंपनी एलआईसी ब्रांड मूल्य के हिसाब से दूसरे स्थान पर है। समीक्षाधीन अवधि में एलआईसी का ब्रांड मूल्य 22.8 प्रतिशत बढ़कर 7.32 अरब डॉलर पर पहुंच गया। सॉफ्टवेयर कंपनी इन्फोसिस का ब्रांड मूल्य इस दौरान 7.7 प्रतिशत बढ़कर 6.50 अरब डॉलर पर पहुंच गया। इन्फोसिस इस सूची में तीसरे स्थान पर रही। भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) 5.97 अरब डॉलर के मूल्य के साथ चौथे स्थान पर रहा। इसके ब्रांड मूल्य में 34.4 प्रतिशत का इजाफा हुआ। महिंद्रा समूह का ब्रांड मूल्य 35.5 प्रतिशत बढ़कर 5.24 अरब डॉलर पर पहुंच गया। एचडीएफसी बैंक का मूल्य 19 प्रतिशत बढ़कर 4.84 अरब डॉलर रहा। सूची में एचडीएफसी बैंक छठे स्थान पर रहा। दूरसंचार क्षेत्र से सिर्फ एयरटेल शीर्ष दस में स्थान बनाने में कामयाब रही। हालांकि कंपनी का ब्रांड मूल्य 28.1 प्रतिशत घटकर 4.79 अरब डॉलर रह गया। सूची में यह सातवें स्थान पर है। इस सूची में एचसीएल 4.64 अरब डॉलर के ब्रांड मूल्य के साथ आठवें, रिलायंस 4.54 अरब डॉलर के ब्रांड मूल्य के साथ नौवें और विप्रो चार अरब डॉलर के ब्रांड मूल्य के साथ दसवें स्थान पर रहा है। अनिल धीरूभाई अंबानी समूह का ब्रांड मूल्य 65 प्रतिशत घटकर 55.9 करोड़ डॉलर रह गया। सूची में यह 28 स्थान फिसलकर 56वें स्थान पर आ गया। शीर्ष सौ ब्रांडों में अनिल धीरूभाई अंबानी समूह का ब्रांड मूल्य सबसे ज्यादा घटा है।