उच्च शिक्षा मंत्री श्री जीतू पटवारी ने कहा है कि अब प्रदेश में 1500 स्मार्ट क्लासेस में आर्टिफिशियल इंटेलीजेन्स के माध्यम से शिक्षा दी जायेगी। श्री पटवारी ने आज लंदन में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय की सीईओ सुश्री फ्रांसिसका वुडवर्ड से मुलाकात के दौरान यह बात कही। श्री पटवारी ने मध्यप्रदेश में उच्च शिक्षा में तकनीक का दोहन तथा कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय और प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग के समन्वित प्रयास से प्रौद्योगिकीय विकास तथा आर्टिफिशियल इंटेलीजेन्स के माध्यम से शिक्षण पद्धति को बेहतर बनाने पर चर्चा की।

श्री पटवारी ने कहा कि वर्तमान में हर क्षेत्र में आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया जा रहा है। हमें शिक्षकों को आधुनिक शिक्षण तकनीकों से लैस करना है। इसके लिये अब मध्यप्रदेश में आर्टिफिशियल इंटेलीजेन्स के माध्यम से शिक्षा देने का प्रयास किया जायेगा। उन्होंने गुणवत्तापूर्ण शिक्षा व्यवस्था पर जोर देते हुए कहा कि प्रदेश के युवाओं में कम्युनिकेशन स्किल विकसित करने में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय मददगार साबित होगा। इसके लिये ऐसे पाठ्यक्रम बनाने की जरूरत है, जिससे साहित्यिक अंग्रेजी भाषा की जानकारी के अलावा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर विद्यार्थियों को एक्सपोजर भी मिले। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश है कि पाठ्यक्रमों को यूरोपीय फ्रेमवर्क ऑफ रिफ्रेंस सीईएफआर के अनुरूप बनायें।

उच्च शिक्षा मंत्री श्री पटवारी ने कैम्ब्रिज एसेसमेंट इंग्लिश के सीईओ श्री साउल नासे तथा कैम्बिज विश्वविद्यालय प्रेस के सीईओ श्री पीटर फिलिप्स से भी मुलाकात की।

इस अवसर पर आयुक्त उच्च शिक्षा श्री राघवेन्द्र सिंह और मध्यप्रदेश निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग के अध्यक्ष श्री एम.एस. परिहार मौजूद थे।