मुंबई । फिल्म ‘पल पल दिल के पास’ से फिल्म अभिनेता व सांसद सन्नी देओल के बेटे करण देओल बॉलीवुड में एंट्री करने जा रहे है। यह फिल्म 20 सितम्बर देशभर के सिनेमाघरों में रिलीज की जाएगी। इस फिल्म के डायरैक्टर सन्नी देओल, हीरो करण देओल व हीरोइन सहर बाम्बा है। सनी ने बताया कि वह बेटे को अभिनेता नहीं बनाना चाहते थे। उन्होंने कहा कि बेटे की पहली फिल्म को लेकर पिता से ज्यादा नर्वस कोई नहीं होता। वह अपने पापा धर्मेन्द्र की उस घबराहट का आज महसूस कर रहे हैं, जैसी उन्हें उनकी पहली फिल्म ‘बेताब’ को लेकर हुई होगी।अभिनेता ने बताया कि जब करण ने उनके पास अभिनेता बनने की इच्छा रखी तो उन्होंने उसे समझाया कि एक डाक्टर व इंजीनियर की जिंदगी सुकून से भरी होती है, परंतु फिल्म एक्टर की पूरी जिंदगी स्ट्रगल से भरी होती है। आज फिल्म इंडस्ट्री में क्या माहौल है किसी से छिपा नहीं है, हर दिन आपका एक इम्तिहान होता है, जिसमें आप रोज पास या फेल होते हैं। लेकिन जब उसने ठान ही लिया तो उसकी बात मानते हुए हमेशा सच्चाई की राह पर चलने व डाऊन टू अर्थ बने रहने की नसीहत दी। वहीं, हिमाचल में हुई शूटिंग को लेकर सन्नी ने बताया कि मनाली में फिल्म की शूटिंग के समय काफी मुश्किलें रहीं। चारों तरफ पहाड़ ही पहाड़, बारिश, स्नो-फाल, लैंड स्लाइड के कारण शूटिंग काफी टफ रहीं। शूटिंग के लिए 4 बार हिमाचल जाना पड़ा, लेकिन स्क्रिप्ट के हिसाब से ही हमें लोकेशन पर ही शूटिंग करनी थी। इन्हीं सब दिक्कतों की वजह से फिल्म भी लेट हो गई। भावुक होते हुए सन्नी देओल ने कहा कि पंजाब हमारा घर है। पंजाब के लोगों ने पहले पापा धर्मेन्द्र फिर उन्हें और उनके भाई को ढेर सारा प्यार दिया। अब पंजाब के लोग दोनों बच्चों करण व सहर बाम्बा को भी अपना आशीर्वाद देंगे। वह सभी से गुजारिश करेंगे कि फिल्म को जरूर देखें, ताकि आप के प्यार से दोनों बच्चे फिल्म इंडस्ट्री में सफलता का मुकाम हासिल कर सकें।