करतारपुर । सिखों के पवित्र तीर्थ करतारपुर कॉरिडोर पर पाकिस्तान बार-बार अपने फैसले बदल रहा है। भारतीय श्रद्धालुओं के लिए पासपोर्ट की शर्त लगाने के बाद अब प्रवेश शुल्क (एंट्री फीस) पर भी नया ऐलान किया गया है। टीवी रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान सेना ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर आने वाले श्रद्धालुओं से 20 डॉलर वसूला जाएगा। बता दें कि इमरान खान ने ऐलान किया था कि करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन के मौके पर भारतीय श्रद्धालुओं से 20 डॉलर नहीं लिया जाएगा। वही विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने भी गुरुवार को कहा था कि फैसल ने कहा कि प्रधानमंत्री खान ने श्रद्धालुओं के आने से 10 दिन पहले पाकिस्तानी सरकार को तीर्थयात्रियों की जानकारी मुहैया कराने की आवश्यकता से भी छूट दे दी है और इसके साथ ही नौ और 12 नवंबर को आने वाले श्रद्धालुओं से 20 अमेरिकी डालर (लगभग 1400 रुपये) का शुल्क भी नहीं लिया जाएगा। 
गौरतलब है कि इमरान खान ने करतापुर गलियारे का निर्माण पूरा होने की ट्विटर पर घोषणा करते हुए कहा था कि उन्होंने दो शर्तों को माफ कर दिया है। इनमें से एक पासपोर्ट से जुड़ी शर्त थी जबकि दूसरी शर्त भारत से करतारपुर तीर्थयात्रा पर आने वाले सिखों द्वारा 10 दिन पहले पंजीकरण कराने से जुड़ी थी। उन्होंने कहा था कि भारत के सिख श्रद्धालुओं को करतारपुर आने के लिए पासपोर्ट की नहीं बल्कि एक वैध पहचान-पत्र की जरूरत होगी।