नई दिल्ली, केंद्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्री नितिन गडकरी ने छोटे कारोबारियों से नए विचारों और नवाचार के साथ आने का आह्वान करते हुए आज कहा कि गुणवत्ता पूर्ण उत्पादन के लिए सरकार नए तकनीक प्रशिक्षण केंद्र स्थापित करने की योजना पर काम कर रही है।
गडकरी ने यहां 39 वें भारतीय अंतररष्ट्रीय व्यापार मेला 2019 में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग मंत्रालय के मंडप का उद्घाटन करते हुए कहा कि कारोबारियों को डिजायन, लागत घटाने और कारोबार बढ़ाने के क्षेत्र में नए विचार लाने चाहिए और नवाचार करने चाहिए।
कारोबारियों को इन्हें कारोबार की संभावनाओं में भी परिवर्तित करना चाहिए। इस अवसर पर मंत्रालय में राज्य मंत्री सोम प्रकाश भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि विभिन्न राज्यों में कई संसाधन बहुतायत में मिलते हैं और इनका विशेष इस्तेमाल नहीं होता है। इन संसाधनों को व्यापार और औद्योगिक अवसरों में बदला जा सकता है।
उन्होंने बताया कि गुणवत्ता पूर्ण उत्पादन के लिए सरकार नए तकनीक प्रशिक्षण केंद्र स्थापित करने की योजना पर काम कर रही है। ये केंद्र अंतररष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार्य होंगे। गडकरी ने कहा कि छोटे उद्योगों के क्षेत्र में देश बहुत प्रगति कर रहा है। कुल निर्यात में छोटे उद्योगों की हिस्सेदारी 29 प्रतिशत है। बाद में उन्होंने खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग के मंडप का भी उद्घाटन किया।
इस अवसर पर आयोग के अध्यक्ष विनय कुमार सक्सेना और मंत्रालय में सचिव अरुण कुमार पांडा भी मौजूद थे। मंडल को अहमदाबाद में महात्मा गांधी के साबरमती आश्रम का रुप दिया गया है। गडकरी ने कहा कि खादी देश में परिवर्तन लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है।